The 12 Days of Christmas : क्रिसमस के 12 दिन क्या हैं

The 12 Days of Christmas (क्रिसमस के 12 दिन) : क्या आप जानते हैं की क्रिसमस को 12 दिनों तक मनाया जाता है। क्रिसमस की शुरुआत Halloween से पहले होती है और उसके बाद 12 दिनों तक Christmas Celebrate किया जाता है।

क्रिसमस एक त्योहार के साथ भाईचारे का प्रतीक भी है। हर साल 25 दिसंबर को पूरी दुनिया में क्रिसमस मनाया जाता है। इसके साथ ही The 12 Days of Christmas की शुरुआत हो जाती है। 25 दिसंबर से शुरू होकर यह दिन 5 जनवरी मनाया जाता है। क्रिसमस के इन 12 दिनों का विशेष महत्व है। आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से The 12 Days of Christmas के बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश करेंगे।

क्रिसमस के 12 दिन क्या हैं (The 12 Days of Christmas in Hindi)

The 12 days of Christmas‘ को ईसा मसीह के जन्म के celebration के रूप में मनाया जाता है। ईसाई धर्मशास्त्र के अनुसार इन दिनों ईसा मसीह का जन्म हुआ था। क्रिसमस के अवसर पर इन 12 दिनों को मनाने की शुरुआत 25 दिसंबर यानी क्रिसमस के दिन से होती है और 6 जनवरी तक यानी Epiphany Eve तक इसे मनाया जाता है। 25 दिसंबर से पहले के 4 हफ़्तों को ईसाई लोग Advent के रूप में मनाते हैं। Advent की शुरूआत Christmas से चार रविवार पहले होती है। Advent को 24 दिसंबर तक मनाया जाता है। The 12 Days of Christmas की शुरुआत सबसे पहले मध्य युग में यूरोप में हुई थी। इसके बाद इसे पूरी दुनिया में मनाया जाने लगा।

The 12 Days of Christmas
The 12 Days of Christmas

The 12 Days of Christmas का प्रत्येक दिन को हर देश में tradition तरीक़े से मनाया जाता है, इन 12 दिनों को क्रिसमस की मूल भावना के साथ ही मनाया जाता है। इसमें सभी लोग कई दावत दिवस भी मनाते हैं, जिसमें लोग तरह तरह के पकवान बनाते हैं और अपने रिश्तेदारों, दोस्तों को खाने की दावत देते हैं।

क्रिसमस के 12 दिन निम्न हैं :

इसे भी पढ़ें :  Christmas Celebrations in India - Friday, 25 December 2021 : भारत में कब मनाया जाता है क्रिसमस
पहला दिन25 दिसंबरक्रिसमस
दूसरा दिन26 दिसंबरBoxing Day या सेंट स्टीफन डे
तीसरा दिन27 दिसंबरSt John the Apostle
चौथा दिन28 दिसंबरThe Feast of the Holy Innocents
पाँचवा दिन29 दिसंबरSt Thomas Becket
छठवाँ दिन30 दिसंबरSt Egwin of Worcester
सातवाँ दिन31 दिसंबरNew Year Eve
आठवाँ दिन1 जनवरीJesus की माता (Mary) का दिन
नौवाँ दिन2 जनवरीसेंट बेसिल द ग्रेट और सेंट ग्रेगरी नाज़ियान
दसवाँ दिन3 जनवरीयीशु के पवित्र नाम का पर्व
ग्यारहवाँ दिन4 जनवरीSt. Elizabeth Ann Seton
बारहवाँ दिन5 जनवरीEpiphany Eve

पहला दिन

  • दिन : 25 दिसंबर
  • उत्सव : Christmas / क्रिसमस यानी यीशु के जन्म का उत्सव

The 12 days of Christmas‘ के पहले दिन यानी 25 दिसंबर को Christmas के रूप में मनाया जाता है। इस दिन Jesus का जन्मदिन धूम-धाम और उल्लास के साथ मनाया जाता है।

दूसरा दिन

  • दिन : 26 दिसंबर
  • उत्सव : बॉक्सिंग डे (Boxing Day) या सेंट स्टीफन डे

The 12 days of Christmas‘ के दूसरे दिन यानी 26 दिसंबर को St Stephen’s Day या Boxing Day के रूप में मनाया जाता है। St Stephen’s Day को पहला ईसाई शहीद भी कहा जाता है, इनकी मृत्यु का कारण Jesus पर विश्वास करना था, जिसकी वजह से इन्हें मृत्यु दंड दिया गया। इस दिन Christmas Carol होता है यानी Good King Wenceslas.

तीसरा दिन

  • दिन : 27 दिसंबर
  • उत्सव : St John the Apostle (यीशु के चेले और दोस्त)

‘The 12 days of Christmas’ का तीसरा दिन 27 दिसंबर को celebrate किया जाता है। यह दिन St John the Apostle के याद में मनाया जाता है।

चौथा दिन

  • दिन : 28 दिसंबर
  • उत्सव : पवित्र दावतों का पर्व (The Feast of the Holy Innocents)

The 12 days of Christmas का चौथा दिन हर साल 28 दिसंबर को मनाया जाता है। इस दिन को The Feast of the Holy Innocents के रूप में मनाने की परम्परा है। इस दिन को उस बच्चे की याद में मनाया जाता है जिसे King Herod ने मारा था। जब King Herod baby Jesus को खोज रहा था, तब उसने इस बच्चे को मारा था।

इसे भी पढ़ें :  क्रिसमस डे क्यों मनाया जाता है | Christmas Day Kyu Manaya Jata Hai

पाँचवा दिन

  • दिन : 29 दिसंबर
  • उत्सव : सेंट थॉमस बेकेट (St Thomas Becket)

‘The 12 days of Christmas’ के पाँचवें दिन को 29 दिसंबर को ‘St Thomas Becket’ के रूप में मनाया जाता है। St Thomas Becket 12 वीं शताब्दी में Canterbury के Archbishop थे। 29 दिसंबर 1170 को इनकी हत्या कर दी गई थी। इन्होंने चर्च पर राजा के अधिकार को चुनौती दी थी, इसी वजह से राजा ने इनकी हत्या करवा दी थी।

छठवाँ दिन

  • दिन : 30 दिसंबर
  • उत्सव : St Egwin of Worcester / वॉर्सेस्टर के सेंट एगविन

‘The 12 days of Christmas’ के छठवे दिन को ‘St Egwin of Worcester’ के रूप में मनाने की परम्परा है।

सातवाँ दिन

  • दिन : 31 दिसंबर
  • उत्सव : New Year Eve

‘The 12 days of Christmas’ सातवें दिन को ‘New Year Eve’ के रूप में मनाया जाता है। इस दिन को Hogmanay in Scotland के रूप में भी जाना जाता है। इस दिन को Pope Sylvester 1st के रूप में मनाया जाता है। Pope Sylvester ईसाइयों के शुरुआती पोप में से एक थे।

United Kingdom में ‘New Year Eve’ के दिन खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाता है। इस खेल प्रतियोगिता में तीरंदाजी को प्रमुख खेल के रूप में शामिल किया जाता था। मध्य युग में एक नियम भी था। इस नियम के अनुसार रविवार को चर्च जाने के बाद 17-60 साल के सभी पुरुष तीरंदाजी का अभ्यास करते थे। इसके पीछे का कारण था की उस समय राजा को किसी भी युद्ध में भाग लेने के लिए बहुत से तीरंदाज चाहिए होते थे, इसलिए राजा ने ऐसा नियम बनाया ताकि उसे युद्ध के लिए कभी तीरंदाजों की कमी ना होने पाए।

मध्य युग में कई पूर्वी यूरोपीय देशों जैसे की Italy, Luxembourg, Austria, Switzerland, Hungary, Israel, Slovenia इत्यादि में New Year Eve को ‘Silvester’ के रूप में जाना जाता था।

इसे भी पढ़ें :  Top 10 Christmas Songs : 10 क्रिसमस गाने जिन्हें सब पसंद करते हैं

आठवाँ दिन

  • दिन : 1 जनवरी
  • उत्सव : Jesus की माता (Mary) 

The 12 days of Christmas का आठवाँ दिन 1 जनवरी को मनाया जाता है। 1 जनवरी को jesus की माता mary की याद में मनाया जाता है।

नौवाँ दिन

  • दिन : 2 जनवरी
  • उत्सव : सेंट बेसिल द ग्रेट और सेंट ग्रेगरी नाज़ियान

‘The 12 days of Christmas’ के नौवें दिन को हर साल 2 जनवरी को मनाया जाता है। यह दिन सेंट बेसिल (St. Basil the Great) और सेंट ग्रेगरी नाज़ियान (St. Gregory Nazianzen) की याद में मनाया जाता है। ये चौथी शताब्दी के महत्वपूर्ण ईसाई पोप थे।

दसवाँ दिन

  • दिन : 3 जनवरी
  • उत्सव : यीशु के पवित्र नाम का पर्व

‘The 12 days of Christmas’ के दशवें दिन को यीशु के पवित्र नाम के पर्व के रूप में मनाया जाता है। इस दिन Jewish Temple में Jesus का आधिकारिक नाम दिया गया था। हालाँकि इस दिन को कई चर्चों द्वारा अलग अलग तिथियों में मनाया जाता है।

ग्यारहवाँ दिन

  • दिन : 4 जनवरी
  • उत्सव : सेंट एलिजाबेथ एन सेटन (St. Elizabeth Ann Seton)

‘The 12 days of Christmas’ के ग्यारहवे दिन को ‘St. Elizabeth Ann Seton’ के याद में मनाया जाता है। ये 18वीं और 19वीं शताब्दी की पहली अमेरिकन saint थी। काफ़ी समय पहले इस दिन को Saint Simon Stylites के दावत के रूप में भी मनाया जाता था।

बारहवाँ दिन

  • दिन : 5 जनवरी
  • उत्सव : एपिफेनी ईव (Epiphany Eve)

‘The 12 days of Christmas’ के लास्ट दिन यानी बारहवें दिन को Epiphany Eve के नाम से भी जाना जाता है। यह 5 जनवरी को मनाया जाता है। 19वीं शताब्दी के अमेरिकन Bishop ‘St John Neumann’ की याद में इस दिन को मनाया जाता है।

‘क्रिसमस के 12 दिन / The 12 days of Christmas’ की बारहवीं रात

‘The 12 days of Christmas’ के आख़री दिन यानी 12th Night को पार्टी का आयोजन किया जाता है। इस दिन अमीर इंसान अपने नौकरों को खाना परोसते हैं। इस रात को winter की समाप्ति के रूप में मनाने की परंपरा भी रही है। Winter की शुरुआत 31 अक्टूबर को Halloween के साथ होती है। इस रात cake खाया जाता है। अंडों, फलों, मसालों, बटर, नट्स से बना यह cake बहुत ही स्वादिष्ट होता है।

The 12 Days of Christmas Song

The 12 Days of Christmas एक बहुत ही लोकप्रिय गाना भी है। The 12 Days of Christmas गाने में सच्चे प्यार यानी भगवान से Gift के बारे में बताया गया है। इस गाने को आप youtube पर देख सकते हैं। नीचे हमने song का लिंक दिया है, जिसे आप सुन सकते हैं :

The 12 Days of Christmas Song

You cannot copy content of this page