Nostradamus Prediction 2022 in Hindi : बहुत कम लोग जानते हैं कि नास्त्रेदमस 16वीं शताब्दी के प्रसिद्ध फ्रांसीसी ज्योतिषी और चिकित्सक थे। जिन्होंने हिटलर के उदय, इराक युद्ध, वॉल स्ट्रीट के पतन और भारत के बारे में बहुत कुछ भविष्यवाणियां कीं हैं। आइए आज हम आपको 2022 के लिए नास्त्रेदमस की कुछ चौंकाने वाली भविष्यवाणी के बारे में बताते हैं – Nostradamus predictions for 2022…..

मिशेल डी नास्त्रेदम (Michel de Nostradame), जिन्हें केवल ‘नास्त्रेदमस’ के नाम से पूरी दुनिया में जाना जाता है, एक फ्रांसीसी भविष्यवक्ता, ज्योतिषी और प्रतिष्ठित भविष्यवक्ता थे, जिन्होंने 465 साल पहले अपनी पुस्तक लेस प्रोफेटीज (Les Propheties) में हजारों भविष्यवाणियां की थीं। नास्त्रेदमस का जन्म दक्षिणी फ्रांस के सेंट रेमी डे प्रोवेंस में दिसंबर 1503 में हुआ था। आज उन्हें दुनिया के इतिहास का सबसे प्रसिद्ध भविष्यवक्ता माना जाता है, क्योंकि उनके द्वारा की गई कई भविष्यवाणियां सच हुईं।

उनकी कई भविष्यवाणियां बहुत ही सटीक रही हैं, फिर भी लोग उनके जीवनकाल में उनके द्वारा कही गई बातों पर गौर नही करते थे। उनकी पुस्तक Les Propheties, जो 942 काव्य यात्राओं का संग्रह है, कथित तौर पर भविष्य की घटनाओं की भविष्यवाणी करती है। यह किताब पहली बार वर्ष 1555 में प्रकाशित हुई थी।

Nostradamus Predictions 2022
Nostradamus Predictions 2022

विद्वानों और विशेषज्ञों के लिए भी नास्त्रेदमस की पुस्तक में लिखी गई चीजों की सटीकता का आकलन करना एक मुश्किल काम है, उन्होंने विश्व इतिहास की कुछ सबसे बड़ी घटनाओं की भविष्यवाणी की थी।

नास्त्रेदमस की कई भविष्यवाणियाँ पहले सच हो चुकी है। जैसे की डोनाल्ड ट्रम्प का चुनाव, होलोकॉस्ट के बारे में चेतावनी, लंदन की महान आग, पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति जॉन एफ कैनेडी की हत्या, 9/11 को वर्ल्ड ट्रेड सेंटर (9/11) आतंकवादी हमला, ईरान द्वारा यूक्रेनी विमान को मार गिराने, हिटलर का उदय इत्यादि।

  • धर्म बाटेंगा इंसान को, काले और सफ़ेद तथा दोनों के बीच लाल और पीले अपने अपने अधिकारों के लिए भिड़ेंगे। रक्तपात, बीमारियाँ, अकाल, सूखा, युद्ध और भुखमरी से मानवता बेहाल हो जाएगी। नास्त्रेदमस (Nostradamus) ने अपनी भविष्यवाणी की किताब “The Prophecies” में भारत, हिंदू धर्म और महान राजनेता के उत्थान की बात कही है।
  • हालाँकि अंधों ने और अंधों के शोषकों ने मिलकर जो षड्यंत्र किया है उसमें करीब-करीब धर्म की सारी जड़ें काट डाली हैं। धर्म की साख है और अधर्म का व्यापार है यह बात ओशो ने कही थी। ख़ैर हम तो ओशो की बात नही मानते क्योंकि यह वर्तमान दौर में व्यवहारिक नही मानी जा सकती है।
  • आज धर्म के नाम पर लोग एक दूसरे को ख़त्म करने में लगे हैं। धर्म अब धर्म नही बल्कि साम्प्रदायिक, आपराधिक और आतंकवादी संगठन बन गए हैं। ऐसे में सवाल कई उठते हैं और जवाब कहीं से नही मिलता। लेकिन हम यदि संगठित धर्मों की ही बात करें, तो किसी धर्म के सम्बंध में क्या भविष्यवाणी की गई है? यह जानना भी जरूरी है। और यही भविष्यवाणियां नास्त्रेदमस की किताबों में देखने को मिलती है।

Table of Contents

Nostradamus Predictions for 2022 in Hindi (2022 के लिए नास्त्रेदमस की भविष्यवाणियाँ)

विद्वानों ने नास्त्रेदमस द्वारा 2022 के लिए की गई भविष्यवाणी को डीकोड किया, जिसमें उनको कई हैरान करने वाली जानकारियाँ मिली। पुजारियों, गणितज्ञों और प्रोफेसरों ने नास्त्रेदमस की किताब में छिपे हुए कोड का खुलासा करने का दावा किया है।

इसे भी पढ़ें :  15 प्राचीन हिंदू भविष्यवाणियां जो सच हुई हैं, जानिए Ancient Hindu Predictions

कहा जाता है कि उनकी भविष्यवाणियां वर्ष 3797 तक के लिए हैं। इसलिए यह हमें स्पष्ट प्रश्न पर आता है कि – उन्होंने वर्ष 2022 के लिए क्या भविष्यवाणियां कीं थी। आइए जानते हैं Nostradamus Predictions 2022 in Hindi :

महंगाई (Inflation)

2022 के बारे में नास्त्रेदमस भविष्यवाणी की एक और बात मुद्रास्फीति से जुड़ी हुई है और इसमें बताया गया है कि कैसे 2022 में दुनिया भर में महंगाई नियंत्रण से बाहर हो सकती है और अमेरिकी डॉलर के मूल्य को नीचे ला सकती है। यह बात भी सच होती दिख रही है, क्योंकि कोरोना की वजह से पूरी दुनिया में महंगाई नियंत्रण से बाहर होती जा रही है। कोरोना की दूसरी लहर समाप्त होने के बाद अब तीसरी चालू हो चुकी है, इसलिए फिर से दुनिया भर में लॉकडाउन की संभावना बन रही है, जिससे सभी देशों की अर्थव्यवस्था बर्बाद होने की कगार पर पहुँच सकती है और अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए सरकारों द्वारा लाए गए राहत पैकेज महंगाई को नियंत्रण से बाहर कर सकते हैं।

पृथ्वी पर उल्कापिंडों का टकराव (Meteor Strike)

नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी के अनुसार 2022 में हमारि पृथ्वी को कई उल्कापिंडों के कारण होने वाले बड़े नुकसान को सहना होगा। उन्होंने आकाश में ‘चिंगारियों की एक लंबी पगडंडी – A Long Trail of Sparks’ के बारे में लिखा था जो आग से बनी होती है। इसका मतलब पृथ्वी से टकराने वाला विशालकाय क्षुद्रग्रह भी हो सकता है।

हालाँकि अब इसकी संभावना कम ही है, क्योंकि विज्ञान ने इतनी तरक़्क़ी कर ली है कि उल्कापिंडों के पृथ्वी पर टकराने से पहले ही उन्हें ख़त्म किया जा सकता है। इसके लिए अमेरिकन स्पेस एजेन्सी नासा ने स्पेशल प्रोजेक्ट भी शुरू किया है। फिर भी नास्त्रेदमस की 2022 की भविष्यवाणी को सच माना जा सकता है क्योंकि उल्कापिंडों पृथ्वी की तरफ़ बढ़ेंगे भले ही उन्हें इंसान अपने ज्ञान और ताक़त के दम पर रास्ते में ही रोक दे।

इंसानों को नियंत्रित करने वाले कंप्यूटर (Computers Controlling Humans)

मनुष्यों पर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और कंप्यूटर के वर्चस्व की भविष्यवाणी लंबे समय से कई फिल्मों में की गई है और Sci-Fi उपन्यास नास्त्रेदमस ने भविष्यवाणी 2022 के अनुसार इस वर्ष तक कृत्रिम बुद्धिमत्ता मानव इंटरफ़ेस के साथ कंप्यूटर पर शासन कर सकती है।

फ्रांस में संकट (Crisis in France)

एक अन्य भविष्यवाणी में कहा गया है कि फ्रांस 2022 में एक बड़े तूफान के कारण संकट में होगा, जिससे दुनिया के इस हिस्से में बाढ़, आग और सूखा पड़ेगा।

तृतीय विश्व युद्ध (3rd World War)

नास्त्रेदमस की 2022 की भविष्यवाणी के अनुसार 2022 में दुनिया में बहुत त्रासदी आने वाली है। तृतीय विश्व युद्ध (3rd World War) के शुरू होने का अनुमान भी इसी में लगाया गया है।

प्राकृतिक आपदा का वर्ष

साल 2022 मे प्राकृतिक आपदाएँ भयानक रूप से आ सकती है। इनमे बाढ़, भूकंप, तूफ़ान के साथ कई ज्वालामुखियों की सक्रिय होने की बात भी कही गई है। इस भविष्यवाणी में कहा गया है कि यह साल दुनिया के लिए एक विनाश की तरह होगा। इससे 2022 में जान-माल के भारी नुक़सान का अंदेशा व्यक्त किया गया है।

दुनिया के मसीहा का उदय

नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी 2022 (Nostradamus Prediction 2022) के अनुसार 2022 के अंत समय तक दुनिया का मसीहा आगे बढ़ना चालू कर देगा और कुछ ही सालों के अंदर इस मसीहा के बारे में पूरी दुनिया को पता चल जाएगा। यह एशिया में ऐसे देश में आगे बढ़ना चालू करेगा जो तीन तरफ़ से समुद्र से घिरा है और उसके धर्म का नाम समुद्र के नाम पर होगा।

अमेरिका और ईरान के बीच दोस्ताना रिश्ते

नास्त्रेदमस की 2022 भविष्यवाणी के अनुसार इस साल अमेरिका और ईरान के बीच टकराव कम होता दिखाई देगा। साथ ही ईरान का परमाणु कार्यक्रम धीरे धीरे पूरी तरह रुक सकता है। ऐसे में अमेरिका उस पर लगी पाबंदियों को कुछ हद तक या पूरी तरह भी हटा सकता है।

विश्व में नया शक्ति संतुलन

साल 2022 में दुनिया में नई तरह का शक्ति संतुलन बनाया जाएगा। इसमें चीन की भूमिका भी होगी। ख़ास कर अमेरिका और युरोपीयन देश चीन को काउंटर करने के लिए एशिया में भारत के साथ मित्रता और भाईचारा बढ़ाने के साथ साझा सैन्य योजना बनाकर काम करेंगे, साउथ चाइना सी के साथ हिंद महासागर में भी यह साझा सैन्य अभियान लागू किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें :  Nostradamus Predictions in Hindi - नास्त्रेदमस की 11 चौंकाने वाली सटीक भविष्यवाणियां

चीन पर दुनिया का दवाब और उसकी दादागिरी

नास्त्रेदमस की 2022 की भविष्यवाणी में लिखा गया है कि कोरोना के कारण चीन पर 2022 में भी दुनिया का दवाब बना रहेगा ऐसे में चीन अपने पड़ोसी देशों के साथ सीमा विवाद को हवा देकर और सैन्य ताक़त दिखाकर पूरी दुनिया का ध्यान कोरोना से दूसरी तरफ़ करने का प्रयास करेगा। लेकिन उसका यह प्रयास भी विफल हो जाएगा।

इजराइल के बारे 2022 के लिए नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी

Nostradamus Prediction 2022 इजराइल के बारे कहती है की इज़राइल के अपने दुश्मनों को खत्म करने का काम करेगा।

दुनिया में शांति

Nostradamus Prediction 2022 के अंत में इतना कहा गया है कि पूरा वर्ष ख़राब होने के बाद इसमें राहत वाली बात ये कही गई है की साल के अंत तक पूरी दुनिया में शांति आएगी।

नास्त्रेदमस की भविष्यवाणियों की व्याख्या (Nostradamus Predictions 2022 Explanation)

आज अब आपको बताते हैं ऐसी पाँच सटीक भविष्यवाणियों के बारे में जो नास्त्रेदमस (Nostradamus) ने आज से कई सौ साल पहले ही कर दी थी। और इस बात को मानने के लिए ओशो भी बिल्कुल तैयार थे। Indian Religion के बारे में भी नास्त्रेदमस (Nostradamus) ने काफ़ी साल पहले ही ये सारी बातें लिख दी थी।

1. पुस्तकालय और यूनिवर्सिटी को नष्ट करने की भविष्यवाणी

तबाह कर देंगे पुस्तकालय को बर्बर लोग, एक समय ऐसा आएगा की जब अनपढ़ लोग पढ़े लिखों की सभ्यता को तबाह कर देंगे। और किताबें वगैरह फूँक डालेंगे। ऐसा दुर्लभ ज्ञान नष्ट कर दिया जाएगा, जिसका अधिकांश भाग कभी वापस नही पाया जा सकेगा। यह सभी जानते हैं कि बर्बर आक्रमण कारियों के हमले में भारत के नालंदा, तक्षशिला और विक्रमशिला जैसी यूनिवर्सिटी को पूरी तरह जला दिया गया था।

2. हज़ारों मन्दिरों और महलों को नष्ट करने की करने की भविष्यवाणी

यह बात भी सभी जानते हैं कि मुस्लिमों ने अखंड भारत के कई मंदिरों और महलों को पूरी तरह से नष्ट कर दिया था। इन मुस्लिम आक्रमण कारियों ने भारत की आधे हिस्से की हिंदू और बौद्ध धर्म को पूरी तरह से नष्ट कर दिया था। अगर आपको यक़ींन ना हो तो आज का पाकिस्तान, बांग्लादेश के बारे में जाने। क्योंकि ये दोनों देश भारत का ही हिस्सा थे और 1191 तक भारत में सिर्फ़ हिंदू और बौद्ध धर्म ही था। इसके अलावा यहाँ कोई और धर्म नही था। 1191 में तराइन के युद्ध (Battle of Tarain) में पृथ्वीराज चौहान के मोहम्मद ग़ौरी से हारने के बाद ही देश में मुस्लिम धर्म आया। मोहम्मद ग़ौरी ने देश में मुस्लिम धर्म को कैसे बढ़ाया था ये तो अलग बात है लेकिन इसने देश के कई मंदिरों को साथ ही आधी से ज़्यादा हिंदू और बौद्ध आवादी को अपनी सेना के दम पर मुस्लिम धर्म अपनाने को मजबूर किया था। इसी का परिणाम पाकिस्तान और बांग्लादेश के साथ भारत के अधिकांश हिस्सों में आज मुस्लिम हैं।

3. हिंदू धर्म के बारे में भविष्यवाणी

सागरों के नाम पर चलने वाला धर्म, चाँद पर निर्भर रहने वाले धर्म के मुक़ाबले तेज़ी से आगे बढ़ेगा। आप सबको पता होगा ही की चाँद पर आधारित एक ही धर्म है इस्लाम। और दूसरी बात की दुनिया में जितने भी सागर हैं उनमे से सिर्फ़ एक हिंद महासागर के नाम पर हिंदू धर्म है। आगे की व्याख्या करना तो वैसे मुश्किल है लेकिन नास्त्रेदमस (Nostradamus) ने अपनी भविष्यवाणियों में हिंदू धर्म के उत्थान की बात साफ़ साफ़ कही है।

4. लाल के ख़िलाफ़ एक जुट होंगे लोग

नास्त्रेदमस (Nostradamus) के अनुसार लाल के ख़िलाफ़ एक जुट होंगे लोग लेकिन साज़िश और धोखे को नाकाम कर दिया जाएगा। पूरब का वह नेता अपने देश को छोड़कर आएगा। यहाँ भी लाल का अर्थ है लाल रंग। जो की नाज़ियों और हिंदू धर्म के लाल रंग को दिखाता है।

इसे भी पढ़ें :  Nostradamus Prediction for Narendra Modi : नास्त्रेदमस ने मोदी के लिए क्या भविष्यवाणी की थी

अपनी भविष्यवाणी में नास्त्रेदमस (Nostradamus) लिखते हैं कि बंद आँख एक पुरातात्विक उन्माद को देखेंगी। ईश्वरीय एकांत के वस्त्र उतारने की चेस्टा का एक शासक कठोरता से दमन करेगा। और भीड़ के जुनून द्वारा मंदिर पर बल पूर्वक क़ब्ज़े की सज़ा देगा। इसका मतलब यह है की यह भविष्यवाणी 1990 में हमें रामचंद्र की जन्म भूमि पर बनें बाबरी ढाँचे के गर्भ ग्रह में स्थित राम जन्म स्थान पर क़ब्ज़े की याद दिलाती है। इसके बाद यूपी के तत्कालीन मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने हिंदुओं को बलपूर्वक वहाँ से खदेड़ने के आदेश दिए थे। जिसके चलते सैकड़ों हिंदुओं का क़त्ले-आम किया गया था। उस समय हिंदुओं की मौत का ज़िम्मेदार मुलायम सिंह यादव थे, लेकिन आज तक उन्हें सज़ा नही मिली। VHP के अनुसार इस मुलायम के इस हिंदू दमनकारी अभियान में 50 से ज़्यादा हिंदुओं की मौत हुई थी। इसके बाद भाजपा और वीएचपी ने मुलायम का नाम “मौलाना मुलायम” कर दिया था। इसके बाद जो हुआ सभी जानते हैं। यदि ये हत्याएँ नही की जाती तो शायद बाबरी मस्जिद को नष्ट नही किया जाता।

5. नास्त्रेदमस (Nostradamus) की भविष्यवाणी

एक समय ऐसा भी आएगा की विश्वव्यापी आग से अधिकांश देशों में नर-संहार होगा। यह समय कब आएगा इसका संकेत देते हुए नास्त्रेदमस (Nostradamus) ने लिखा था कि मेष – वृषभ – कर्क – सिंह – कन्या – मंगल – बृहस्पति तथा सूर्य के प्रभाव में ये सारे ग्रह होंगे, तब धरती जलने लगेगी, जंगल और शहर यूँ तबाह होंगे जैसे मोमबत्ती पर लिखे अच्छर। ऐसी ग्रह स्तिथि 1994 में उत्पन्न हो चुकी है। हम सभी जानते हैं कि 22 फरवरी 2020 को कोरोना भारत में आ चुका था। देश में कोरोना से कई लोगों की जान भी जा चुकी है। लेकिन इससे भी बड़ी बात की कोरोना के बारे में ये भी कहा गया है कि 28 मई 2021 को यह दोबारा वापसी कर सकता है। इसी बात पर ओशो भी कुछ कहते हैं। ओशो का कहना है की संप्रदायिकता और शत्रुता के लम्बे दौर के बाद सभी धर्म तथा जातियाँ एक ही विचार धारा को मानने लगेंगी। नास्त्रेदमस (Nostradamus) के अनुसार 17 साल के भीतर पाँच पोप बदले जाएँगे तब एक नया धर्म आएगा।

6. नास्त्रेदमस की भविष्यवाणी (Nostradamus Predictions for 2022)

इसमें कई चीज़ों का मिश्रण देखने को मिलता है। इस भविष्यवाणी में लिखा गया है कि तीन ओर से घिरे समुद्र क्षेत्र में दुनिया का लीडर जन्म लेगा। यह लीडर बृहस्पतिवार को अवकाश घोषित करेगा। उसकी प्रशंसा और प्रसिध्दी बढ़ती जाएगी। उसकी सत्ता और पावर बढ़ेगी। भूमि, समुद्र और हवा यानी तीनों जगह उस जैसा शक्तिशाली दुनिया में कोई नही होगा।

आइए इस भविष्यवाणी को समझते हैं। आपको बता दें की तीन ओर से समुद्र से दुनिया में कई देश घिरे हुए हैं लेकिन नास्त्रेदमस (Nostradamus) ने इसमें एक ख़ास बात जोड़ी थी की यह क्षेत्र Asia में होगा। Asia की बात करें तो सिर्फ़ भारत ही एक ऐसा देश है जो तीन तरफ़ से समुद्र से घिरा हुआ है। भारत में गुरुवार को हिंदू धर्म के लोग पवित्र मानते हैं, हिंदू धर्म के लिए भी यह पवित्र दिन हैं। इसका कारण है की गुरुवार की दिशा ईशान कोण पर है। और ईशान कोण में ही देवताओं का वाश होता है। मुस्लिम धर्म में शुक्रवार को, यहूदियों में शनिवार को और ईसाइयों में रविवार को पवित्र दिन माना जाता है। हालाँकि अभी इसके पूरा होने का इंतज़ार है।

निष्कर्ष (Nostradamus Predictions for 2022 in Hindi)

2022 के लिए नास्त्रेदमस की भविष्यवाणियाँ और यहाँ बताई गई अधिकांश भविष्यवाणियां बहुत समय पहले से ही हो रही हैं, लेकिन कोई भी असंभवता के दायरे में नहीं है। इसलिए हो सकता है यह वर्ष भी दुनिया के लिए अच्छा नही होने वाला। फिर भी समय ही बताएँगा कि क्या यह सब सच होता है या फिर ये सिर्फ़ कोरी कल्पना मात्र होगा। इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया में ज़रूर शेयर करें।